फ्री में भी काम किया इन लोगो ने महाभारत में

कितना कमाते थे महाभारत के कलाकार

कितना कमाते थे महाभारत के कलाकार

देश में lockdown एक लम्बे समय से चल रहा है ऐसे में जैसा की हम बता चुके है डी डी नेशनल ने यह तय किया था की वह अपने पुराने सीरियल महाभारत और रामायण एक बार फिर इ दिखायेगा। डी डी नेशनल के इस निर्णय के बाद से इन प्रमुख सीरियल के कलाकार जैसे मुकेश खन्ना, नितीश भारद्वाज, रूपा गांगूली और भी कई नाम चीन एक्टर्स काफी ख़ुश दिखाई दे रहे है। दर्शको की उत्सुकता हमेशा से इस प्रोग्राम से जुडी बातो को जानने की रहती है। उनको इस महाकाव्य पर बातें करते हुए और इस सीरियल की शूटिंग के दौरान का एक्सपेरिएंस शेयर करते हुए भी खूब देखा जा रहा है। इन्ही में से एक सबसे बड़ा सवाल यही है की महाभारत में काम करने वाले एक्टर्स को प्रत्येक एपिसोड कितने पैसे मिलते थे।


वैसे आप को जान कर हैरानी होगी के महाभारत में काम करने वाले सभी कलाकारों को एक सामान सैलरी मिली थी। और उस वक्त इस सीरियल के किसी भी कलाकार में कोई भी भेद भाव नहीं रखा गया था। जहा इस महाकाव्य को लग भग 94 एपिसोड्स में शूट किया गया था। बॉलीवुड न्यूज़ पोर्टल टेलीचक्कर के मुताबिक महाभारत के प्रत्येक कलाकार को प्रति एपिसोड 3000 रूपए दिए गए थे ।

बी आर चोपड़ा की बहु (रेनू) ने हिंदुस्तान टाइम्स को दिए एक इंटरव्यू में बताया की रवि चोपड़ा जो की बी आर चोपड़ा के बेटे है उनकी कोसिस थी की वो इस धरवाहिक के प्रति एपिसोड लागत को ६ लाख तक रख सके पर काफी कोसिस के बाद भी वो महाभारत की प्रति एपिसोड कॉस्ट साढ़े सात लाख से काम नहीं कर पाएँ।

कई लोगो ने फ्री में काम किया :

महाभारत के ज़्यादातर एपिसोड मुंबई के फिल्म सिटी में शूट किये गए थे पर इसके युद्ध वाले हिस्से को जयपुर में शूट किया गया था। रेनू ने बताया की धरावाहिक के इस हिस्से को शूट करने के लिए कई लोगो की आवश्यकता थी जो पांडव और कोरवो की सेना का हिस्सा बन सके। पहले उन्होंने तय किया की वह सेना के रूप में जूनियर आर्टिस्ट को रखेंगे। लेकिन जब वह जयपुर पहुंचे तो देखा की महाभारत की प्रसिद्धि की वजह से जयपुर की लोग इस प्रोग्राम में फ्री में भी काम करने के लिए तैयार थे । अतिरिक्त के रूप में जिस किसी ने भी इस सीरियल में काम किया था उनको किसी भी प्रकार का वेतन नहीं दिया गया था । रेनू ने ये भी बताया की उन्होंने किसी भी सिपाही को कोई पैसा नहीं दिया था सिवाय उन लोगो के जो सेना के सामने वाले हिस्से में खड़े थे ।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *